Please reload

Recent Posts

Malmas 2020 | Adhik Maas | Purushottam Maas me kya karein?

September 4, 2020

1/10
Please reload

Featured Posts

दिसम्बर राशिफल - Astro Life Sutras

November 24, 2018

 दिसम्बर 20 18 आपकी जन्म राशी और लग्न के लिए कैसा है इसी विषय पर अपना ज्ञान साझा कर रहे हैं AstrologerNitin Kashyap

मेष लग्न

 

 

लग्नेश लाभ भाव में, लाभेश से दृष्ट है| त्रिकोण के स्वामी धन और वाणी स्थान पर दृष्टि बनाये हुए है धनेश स्वराशि का होकर लग्न पर दृष्टि दे रहा है| चतुर्थ भाव से 6,7 और 8 वे भाव में क्रूर ग्रह का गोचर है अतः पैसा आ रहा है, घर में शान्ति का अभाव रहेगा| महीने की शुरुआत में लग्न से 6,7 और 8 भाव में शुभ ग्रह अधियोग का निर्माण कर रहा है, जातक के रुके हुए काम बनेगे| 16 दिसंबर को सूर्य धनु राशी में गोचर करेंगे और धन भाव पर 6,8 और १२वे स्थान के स्वामी की दृष्टि पड़ेगी| 15 दिसम्बर से 31 दिसम्बर तक खर्चे बढ़ेंगे और आमदनी पर असर पड़ेगा|

 

15 दिसम्बर के बाद भाग्य स्थान में दो क्रूर ग्रह का गोचर और दोनों की दृष्टि तीसरे भाव में| भाग्येश और विक्रमेश दोनों अष्टम भाव में अतः पिता की सेहत को कष्ट भाई-बहनों से तनाव उनके जीवन में कठिनाई आने के योग है|

सेहत – 3 star

कार्यक्षेत्र – 4.5 Star

पारिवारिक शान्ति – 2.5 Star

 

 

 

 राशिफल video देखें|

वृषभ लग्न

 

लग्नेश छठे भाव में स्वराशि का, लग्न पर धनेश और लाभेश की दृष्टि | मंगल और गुरु दोनों की दृष्टि लग्न पर ससुराल पक्ष का दबदबा दर्शा रही है| खर्चो का स्वामी, शनि के घर में शनि से दृष्ट यही स्थिति जीवन साथी के स्वामी का भी है|  सम्पूर्ण माह शनि और मंगल दोनों की दृष्टि पंचम भाव पर है इस कारण कोई बड़ा निर्णय न ले| महीने के अंत में सूर्य और शनि की युति अष्टम भाव में अचानक किसी बड़ी घटना का होना दर्शा रही है|

सेहत – 3 star

कार्यक्षेत्र – 3.5 Star

पारिवारिक शान्ति – 2 Star

 

 

मिथुन लग्न

 

सम्पूर्ण माह लग्नाधिपति छठे भाव में शत्रु क्षेत्री रहना है| जो की आपका तनाव में रहना दर्शा रहा है| आपको ऐसी स्थिति में जीवन साथी का सहयोग मिल रहा है| घर के सुख पर छठे और आंठवे घर के मालिक की दृष्टि करेला नीम चढ़ा की स्थिति को प्रदर्शित कर रहा है| 16 दिसंबर के बाद सूर्य शनि की लग्न पर सप्तम भाव से दृष्टि सहयोगियों से रस्साकशी बता रही है| 23 दिसंबर के बाद मंगल भी लग्न पर प्रभाव डालेगा| यह समय जोखिम लेने का बिलकुल नहीं है|

सेहत – 2.5 star

कार्यक्षेत्र – 3.0 Star

पारिवारिक शान्ति – 2 Star

 

 

 

 

कर्क लग्न

 

चतुर्थ भाव में स्वराशि शुक्र समय को आनंदित करने वाला है| क्रूर ग्रह शनि उपचय स्थान में शुभ फलदायक है| 16 दिसम्बर के बाद सूर्य भी शनि का साथ देगा| धन भाव और लाभ भाव पर योगकारक मंगल की दृष्टि, भाग्य अधिपति का लाभ भाव को देखना और धन के मालिक सूर्य के साथ बैठना आर्थिक उन्नति के लिए शुभ है| फिलहाल कर्मअधिपति आंठवे घर में अष्टमेश से दृष्ट है जो की कार्य क्षेत्र में व्यवधान दिखा रहा है| 23 दिसम्बर के बाद भाग्य और बुद्धि में राशि परिवर्तन नव वर्ष का आरम्भ आपके लिए शुभ रहेगा|

सेहत – 3 star

कार्यक्षेत्र – 3.5  Star

पारिवारिक शान्ति – 4.0 Star

 

 

सिंह लग्न

 

माह के आरम्भ में लग्नाधिपति सुख भाव में दो शुभ ग्रहों के साथ परिवार वालो का साथ दिखा रहा है| भाग्य का स्वामी लग्न को देखना स्थिति शुभ है उन्नति और कार्यक्षेत्र के लिए अच्छा योग है| 16 दिसम्बर के बाद जीवन साथी की बातों को समझने का प्रयास करें छोटी छोटी बातों को तूल न दें| सुख भाव में दो शुभ ग्रहों का प्रभाव पूरे महीने परिवार में खुशनुमा माहौल रखेगा| 23 दिसम्बर के बाद भाई बहनों के लिए समय चुनौती पूर्ण है|

सेहत – 3 star

कार्यक्षेत्र – 3.0  Star

पारिवारिक शान्ति – 4.0 Star

 

 

कन्या लग्न

 

 

लग्नाधिपति, संघर्षो के भाव में शत्रु क्षेत्री, लग्न पर अष्टम और छठे के मालिक की दृष्टि सेहत और सम्मान के लिए शुभ नही है| तीसरे भाव में लग्नेश और तृतीयेश की लग्न पर दृष्टि यात्राओं की सूचक है| दिसम्बर के आखिरी सप्ताह पैसे की आवाजाही में रूकावट आएगी| 15 दिसंबर के बार छठे और बारहवे के स्वामी का कर्म भाव पर प्रभाव रहेगा 23 दिसम्बर के बाद अष्टम भाव का स्वामी भी इस कुयोग में हिस्सा ले लेगा| अतः कोई भी नया काम 23 दिसम्बर के बाद नही करें और कार्य क्षेत्र में विशेष ध्यान रखें|

सेहत – 2 star

कार्यक्षेत्र – 2.5  Star

पारिवारिक शान्ति – 2.5 Star

 

 

तुला लग्न

 

 

लग्नाधिपति लग्न में सुख से विराजित है| धन भाव में लाभ भाव का स्वामी दो शुभ ग्रहों से युत है| बौधिक क्षमता के भाव पर पंचम के स्वामी की दृष्टि विद्या अध्ययन और योजनायें बनाने के लिए शुभ समय है| 15 दिसम्बर के बाद पिता की सेहत का ध्यान रखें| 23 दिसम्बर के बाद सभी क्रूर ग्रहों का तीसरे, छठे और दशम में आना कार्यक्षेत्र में सफलता दिलाएगा| क्रोध और ऊर्जा पर नियंत्रण रखें| नए नए लोगो से मिले और संपर्क बढायें|

सेहत – 4 star

कार्यक्षेत्र – 4  Star

पारिवारिक शान्ति – 3 Star

 

 

 

वृश्चिक लग्न

 

लग्न का स्वामी भूमि भाव में भूमि के स्वामी से दृष्ट, व्यय स्थान में खर्चे का स्वामी बैठा है| इस माह पैसे की आवाजाही अच्छी रहेगी| घर में कोई नया सामान आने के योग है| लाभ और धन के स्वामी लग्न में युति कर विराजित है, जो की आर्थिक उन्नति दर्शा रहे है| 15 दिसम्बर के बाद वाणी पर नियंत्रण रखना क्योंकि शनि और सूर्य दोनों वाणी भाव में विराजित हो जायेंगे वो भी अग्नि तत्व राशी में| 23 दिसम्बर के बाद लग्नेश और संतान भाव के स्वामी में राशि परिवर्तन बेहद शुभ योग बना रहा है|

सेहत – 3.5 star

कार्यक्षेत्र – 4  Star

पारिवारिक शान्ति – 3 Star

 

 

धनु लग्न

 

व्यय भाव में लग्नेश भाग्येश की युति, विदेश से लाभ और धन का सदुपयोग करवाएगा| जीवन साथी की सेहत और उनसे तालमेल अच्छा रखें| 15 दिसम्बर के बाद सर दर्द और निर्णय लेने की शक्ति पर कुप्रभाव आएगा, इस कारण जो निर्णय लेना है शीघ्र ले लें| लाभ भावेश, लाभ भाव में ही विराजित है| आय के स्त्रोत बराबर बने रहेंगे| घर के माहौल में गर्मी न आने दें| धार्मिक कार्यों में रूचि बढ़ेगी|

सेहत – 2.5  star

कार्यक्षेत्र – 3.5 Star

पारिवारिक शान्ति – 2 Star

 

मकर लग्न

 

 

देह का स्वामी द्वादश भाव में, लग्न में केतु विराजित है| ऐसी स्थिति में जल्दबाजी से कोई काम न बिगाड़े| कर्म भाव इस माह बली है| मेहनत होगी जिसका परिणाम अगले साल प्राप्त होगा| महीने के आरम्भ में लाभेश का धन भाव में होना आर्थिक स्थिति के लिए शुभ संकेत दे रहा है| महीने के आरम्भ में सप्तम भाव से 6,7 और 8 भाव में क्रूर ग्रहों का गोचर वैवाहिक संबंधो में तनाव दे सकता है| 15 दिसम्बर के बाद सेहत का विशेष ध्यान रखें| 23 दिसम्बर के बाद यात्रा का योग है|

सेहत – 2.5  star

कार्यक्षेत्र – 3.5 Star

पारिवारिक शान्ति – 3 Star

 

कुम्भ लग्न

दिसम्बर के आरम्भ में कर्म स्थान का स्वामी लग्न में और तीन ग्रहों का योग दशम में यह बता रहा है की दिसम्बर का महीना मेहनत और कार्यक्षेत्र के सुधार प्रयास में गुजरेगा| भाग्याधिपति भाग्य स्थान में आपके प्रयासों को सफल बनाएगा| दशम में दो शुभ ग्रह लोगो की भलाई के लिए आपके हाथ से काम करवाएंगे| 15 दिसम्बर के बाद जीवनसाथी हावी हो सकता है, प्रेम और धैर्य से संबंधो को संभालें| 23 दिसम्बर के बाद कार्य क्षेत्र को बेहतर बनाने के लिए उसमे कुछ पूँजी लग सकती है| ओवरआल यह महीना सामान्य से कुछ बेहतर जायेगा|

 

सेहत – 3 star

कार्यक्षेत्र – 4 Star

पारिवारिक शान्ति – 3.5 Star

 

मीन लग्न

भाग्य स्थान में लग्नाधिपति सुखेश के साथ महीने का आरम्भ सुकून से होगा| सप्तम भाव पर शनि मंगल की दृष्टि जीवन साथी के लिए अच्छा नहीं है| 15 दिसम्बर के बाद छठे और 12 भाव के स्वामी दशम और चतुर्थ दोनों को प्रभावित करेंगे ऐसी स्थिति में घर पर किसी कारण तनाव रह सकता है| आखिरी सप्ताह तरक्की के लिए बेहद शुभ रहेगा क्योंकि लग्न का स्वामी भाग्य में और भाग्य का स्वामी लग्न में स्थित होगा| तीन क्रूर ग्रहों का विद्या भाव से 6,7 और 8 आना पढ़ाई में मन कम लगेगा|

सेहत – 4 star

कार्यक्षेत्र – 3.5 Star

 

 

 

 

Share on Facebook
Share on Twitter
Please reload

Follow Us